नागरिकता संशोधन बिल 2019 के समर्थन में बांटे पर्चे लोगो को किया जागरूक

0
127

मथुरा। नागरिकता संशोधन अधिनियम (CAA) 2019 के समर्थन में शिवोहम आश्रम हमजापुर के महामंडलेश्वर स्वामी प्रकाशानंदजी ने बाजना हमजापुर सकतपुर नवीपुर बादौठ राघवघड़ी भूरघड़ी मिठोली कानेका भर्तियां खानपुर में पर्चे बांटकर नागरिकता संशोधन अधिनियम 2019 का समर्थन करते हुए जन जागरण किया और कहा भारत एक संस्कृति मूल्यो एवं आध्यात्मिक संस्कृति को मानने एवं पालन करने वाला राष्ट्र है। हजारों वर्ष का इतिहास भारत की इस विशेषता को दर्शाता है। इस देश में विभिन्न मत पंथ संप्रदाय खान-पान वेशभूषा और भाषाओं को मानने वाले सदैव से परस्पर सौहार्द से रहते आए हैं परंतु कुछ शताब्दियों से राजनीतिक कारणों से राष्ट्र में अलगाव और सामाजिक विषमता को जानबूझकर और जबरन समाज में स्थापित किया गया । वर्तमान के पाकिस्तान बांग्लादेश एवं अफगानिस्तान वर्ष 1947 में या इससे पूर्व धार्मिक आधार पर मूल भारत भूखंड से पृथक हुए जो भारत राष्ट्र की मूल सांस्कृतिक और स्वाभाविक स्वभाव के विपरीत था। इस विभाजन के कारण उस समय और भविष्य में आने वाले परिणाम को ध्यान में रखकर 23 सितंबर 1947 को महात्मा गांधी ने एक सभा में कहा था कि पाकिस्तान बांग्लादेश में रहने वाले हिंदू और सिख हर नजरिए से भारत आ सकते हैं। अगर वे वहां निवास नहीं करना चाहते है उस स्थिति में उन्हें नौकरी देना और उनके जीवन को सामान्य बनाना भारत सरकार का पहला कर्तव्य है।

Hits: 17

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here