भारत दुनिया-भर में इंसानियत के लिए एक उम्मीद-ट्रंप, पीएम मोदी की तारीफ़ की

0
224

पत्नी मेलानिया ट्रंप के साथ अमेरिकी राष्ट्रपति ने आगरा में किया ताजमहल का दीदार

नई दिल्ली/अहमदाबाद/आगरा। सोमवार को अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप का अहमदाबाद के मोटेरा स्टेडियम में भव्य स्वागत किया गया। स्टेडियम में हजारों लोगों के समक्ष प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने दोनों देशों के गहरे और आत्मीय रिश्तो पर प्रकाश डाला।

अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प ने सोमवार को मोटेरा स्टेडियम में ‘नमस्ते ट्रम्प’ कार्यक्रम में कहा, ‘हम 8 हजार मील की दूरी तय करने के बाद यह बताने आए हैं कि अमेरिकियों को भारत से प्यार है। 5 महीने पहले अमेरिका ने आपके महान प्रधानमंत्री का टेक्सास के फुटबॉल स्टेडियम में स्वागत किया था। आज भारत ने हमारा दुनिया के सबसे बड़े क्रिकेट स्टेडियम में स्वागत किया है। खूबसूरत और नए मोटेरा स्टेडियम में आकर संबोधित करना मेरे लिए गर्व की बात है।”उन्होंने कहा, ‘भारत का हमेशा हमारे दिल में विशेष स्थान रहेगा। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का जीवन इस महान देश की यात्रा को भी रेखांकित करता है। वे उनके पिता के साथ चाय बेचते थे। वे इसी शहर में एक कैफेटेरिया में काम करते थे। दुनिया के सबसे बड़े लोकतांत्रिक चुनाव में वे जीतकर आए हैं। आप सिर्फ गुजरात के लिए गर्व नहीं हैं, बल्कि आप इस बात के प्रतीक हैं कि भारतीय जो चाहें, उसे कैसे भी पूरा सकते हैं। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की कहानी असाधारण तरीके से तरक्की करने की है। यही भारत की भी कहानी है। भारत दुनियाभर में इंसानियत के लिए एक उम्मीद है। यह दुनिया का सबसे नायाब देश है।’


भारत-अमेरिका दो अलग देश, लेकिन आत्मा एक

अमेरिकी राष्ट्रपति ने कहा कि मोदी से हर कोई प्यार करता है, लेकिन मैं आपको बता रहा हूं कि वे बहुत टफ हैं। जो देश अपने लोगों को सभी बंधनों से मुक्त रखता है और उन्हें उनके सपने पूरे करने देता है, वही देश महान होता है। भारत ऐसे देशों में से एक है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का अपने लोगों पर भरोसा है। यह अच्छी बात है। हमारे दो देशों के बीच कुछ फर्क है, लेकिन हमारी आत्मा एक जैसी है। स्वामी विवेकानंद ने इसका एक बार जिक्र किया था। इसी आत्मबल के साथ भारत के लोग हिम्मत बनाए रखते हैं और पूरी दुनिया को एक नई रोशनी दिखाते हैं।’  ‘यहां का बलीवुड क्रिएटिविटी का उदाहरण है। भांगड़ा, रोमांस, ड्रामा और क्लासिक का उदाहरण ‘शोले’ और ‘दिलवाले दुल्हनिया ले जाएंगे’ फिल्म है। सचिन तेंडुलकर से लेकर विराट कोहली तक भारत महान खिलाड़ियों का देश है। सरदार पटेल को इस देश ने ऊंची स्टैच्यू बनाकर श्रद्घांजलि दी है। दिवाली को इस देश के लोग बुराई पर अच्छाई के जीत के पर्व के रूप में मनाते हैं। रंगों का खूबसूरत त्योहार होली है। भारत हर व्यक्ति की गरिमा का सम्मान करने वाला देश है। यहां करोड़ों हिंदू-मुस्लिम, सिख, जैन, ईसाई और बौद्घ एकसाथ रहते हैं।’

‘हम इस्लामिक टेरेरिज्म को खत्म कर रहे हैं’

ट्रंप ने कहा, अमेरिका में रह रहे भारतीय भी बेहतरीन हैं। सबसे बड़े और सबसे श्रेष्ठ कारोबारियों में हैं। टेक्नोलजी में वे इनोवेशन करते हैं। गुजरात भी भारतीय-अमेरिकियों की नजर से खास जगह है। अमेरिका की अर्थव्यवस्था के लिए यह सबसे अच्छा वक्त चल रहा है। बेरोजगारी सबसे निचले स्तर पर है। हमारी सेना में बदलाव हुआ है। वे पहले से कहीं ज्यादा मजबूत है। हम दुनियाभर में हमारे सहयोगियों और दोस्ती को मजबूत कर रहे हैं। हमारे पास दुनिया की सबसे ताकतवर मिलिट्री है।‘हेलिकप्टर डील को मंजूरी’यह दौरा बताता है कि जब दो देशों के नेता अपने देश की जनता के हितों को आगे रखते हैं तो दो देशों के बीच मजबूत गठबंधन उभरकर सामने आता है। हम दुनिया के सबसे बेहतरीन हेलिकप्टर, रकेट, फाइटर प्लेन बनाते हैं। 3 अरब डलर मूल्य के हेलिकॉप्टर हम भारत की सेना को देने जा रहे हैं। भारत हमारा बड़ा डिफेंस पार्टनर है। हम दोनों देश एकसाथ भारतीय-प्रशांत क्षेत्र में संप्रभुता को बनाए रखने का काम करेंगे। हम इस्लामिक टेररिज्म खत्म करने के लिए काम कर रहे हैं। आज आईएसआईएस का खात्मा हो चुका है। हमने उसे सौ फीसदी नेस्तनाबूद कर दिया है।


‘आतंक फैलाने वाले को बड़ी कीमत चुकानी होगी’

अमेरिका की सरहदें आतंक के लिए हमेशा से बंद रहेंगी। इसलिए हमने अमेरिका में एंट्री के नियमों को सख्त बनाया है। अमेरिका में जो भी आतंक फैलाने के इरादे से आएगा, उसे बड़ी कीमत चुकानी होगी। हर देश अपनी सीमाओं की सुरक्षा चाहता है। यहां अमेरिका और भारत अपनी-अपनी विचारधारा  के साथ एकसाथ काम कर सकते हैं। हमने पाकिस्तान पर दबाव बनाया है और उसे सीमा पार आतंकवाद खत्म करने को कहा है। हमारे पाकिस्तान के अच्टे रिश्ते हैं। हम अच्टे नतीजों की उम्मीद कर रहे हैं। उम्मीद है कि इससे दक्षिण एशिया में शांति का माहौल बनाने में मदद मिलेगी।


‘दोनों देशों के बीच कारोबार 40 % बढ़ा’

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और मैं कारोबारी रिश्ते बढ़ाने पर भी चर्चा करेंगे। हम ट्रेड डील को लेकर शुरुआती बातचीत के दौर में हैं। मुझे उम्मीद है कि हम एक अच्छी डील को आकार दे सकते हैं। हालांकि, वे बहुत टफ नेगोशिएटर हैं। दोनों देशों के बीच द्विपक्षीय कारोबार 40 फीसदी बढ़ा है। भारत अमेरिका के लिए सबसे बड़ा एक्सपोर्ट मार्केट है। भारत की तरक्की दुनिया के लिए भी फायदेमंद है। अमेरिका में हमने साबित कर दिया है कि रोजगार बढ़ाने के लिए बेवजह की ब्यूरोक्रेसी को खत्म किया जाए। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भी ऐसे ही प्रयास कर रहे हैं। दो साल पहले मोदी ने मेरी बेटी इवांका को ग्लोबल एंटरप्रेन्योरशिप समिट के लिए हैदराबाद में बुलाया था। इवांका आज भी यहां आई हैं।


दूसरेेे देश सोच भी नहीं सकते भारत वहां तक जाएगा’

भारत और अमेरिका स्पेस के क्षेत्र में भी काम कर रहे हैं। भारत ने चंद्रयान मिशन लन्च किया था। इस पर आगे भी काम हो रहा है। अमेरिका इसमें सहयोग करना चाहता है। पहली ह्यूमन स्पेस फ्लाइट के मिशन में भी हम सहयोग के लिए तैयार हैं। दूसरे देश जो सोच भी नहीं सकते, भारत का भविष्य उसे वहां तक आगे ले जाएगा।
आपका सपना ही आपको खुशहाली, बराबरी के मोर्चे पर आगे ले जाएगा। आज मैं कहूंगा कि हिंदू, मुस्लिम, अमीर-गरीब यहां के उज्ज्वल भविष्य के लिए एकजुट रहें, यही कामना है। 

प्रधानमंत्री मोदी ने अपने सम्बोधन में कहा-India-US relations are no longer just another partnership. It is a far greater and closer relationship: PM

इस कार्यक्रम का जो नाम है- नमस्ते, उसका मतलब भी बहुत गहरा है! ये दुनिया की प्राचीनतम भाषाओं में से एक, संस्कृत का शब्द है। इसका भाव है कि सिर्फ व्यक्ति को ही नहीं, उसके भीतर व्याप्त Divinity को भी नमन। एक Land Of the Free है, तो दूसरा पूरे विश्व को एक परिवार मानता है।

एक को Statue Of Liberty पर गर्व है तो दूसरे को, दुनिया की सबसे ऊंची प्रतिमा- सरदार पटेल की Statue Of Unity का गौरव है।

There is so much that we share, Shared Values & Ideals, Shared Spirit of Enterprise & Innovation, Shared Opportunities & Challenges, Shared Hopes & Aspirations.

प्रेसिडेंट ट्रंप की ये यात्रा, भारत और अमेरिका के संबंधों का नया अध्याय है। एक ऐसा अध्याय, जो अमेरिका और भारत के लोगों की Progress and Prosperity का नया दस्तावेज बनेगा।

मिनी इसके बाद प्रधानमंत्री मोदी ने अमेरिकी राष्ट्रपति की पत्नी का स्वागत करते हुए कहा-

First Lady मेलानिया ट्रंप, आपका यहां होना सम्मान की बात है। Healthy और Happy America के लिए आपने जो किया है, उसके अच्छे परिणाम मिल रहे हैं। समाज में बच्चों के लिए आप जो कर रही हैं, वो प्रशंसनीय है।

आप कहती हैं- Be Best !

आपने अनुभव किया होगा कि आज के स्वागत समारोह में भी लोगों की यही भावना प्रकट हो रही है।

ट्रम्प की बेटी दामाद की तारीफ के बाद प्रधानमंत्री ने ट्रम्प को सम्बोधन के लिये आमन्त्रित किया…

ट्रम्प बोले नमस्ते… तो लोगों ने गर्मजोशी से उसका प्रत्युत्तर दिया।

इसके बाद डोनाल्ड ट्रंप ताजमहल का दीदार करने के लिए आगरा पहुंचे, जहां मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ और राज्यपाल आनंदीबेन पटेल ने उनका स्वागत किया।

Hits: 168

[supsystic-gallery id=6] [supsystic-gallery id=5]

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here