कोरोना: 21 दिन के लिए पूरा देश लॉकडाउन, लोगों के घर से बाहर निकलने पर लगी पाबंदी

0
157

नई दिल्ली । देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 21 दिन के लिए 14 अप्रैल तक पूरे देश को संपूर्ण लॉकडाउन किया है। इस अवधि में लोगों के घर से बाहर निकलने पर पूरी पाबंदी रहेगी और यह काफी हद तक कर्फ्यू की तरह ही होगा। प्रधानमंत्री ने अगले 21 दिन तक लोगों से घर से बाहर ना निकलने की अपील की है।

मंगलवार रात 8:00 बजे देश के नाम संबोधन में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 21 दिन के लोग उन्होंने लॉक डाउन की घोषणा की। पीएम मोदी ने कहा कि कुछ लोग इस गलतफहमी में हैं कि सोशल डिस्टेंसिंग केवल मरीज के लिए है। बल्कि यह हर व्यक्ति और परिवार के लिए है, प्रधानमंत्री के लिए भी है। यदि इस मामले में लापरवाही बरती गई तो देश को बहुत बड़ी कीमत चुकानी पड़ेगी। पहले देश के अनेक भागों में लाॅक डाउन किया गया था। पीएम मोदी ने अपने संबोधन की सबसे महत्वपूर्ण घोषणा करते हुए कहा कि आज रात 12:00 बजे से पूरा देश संपूर्ण लॉक डाउन किया गया है। लोगों के घरों से बाहर निकलने पर पूरी तरह पाबंदी लगाई गई है। यह एक तरह से कर्फ्यू है। जनता कर्फ्यू से भी कुछ और कदम आगे की बात है। जनता कर्फ्यू से भी सख्त कदम कोरोना के खिलाफ निर्णायक लड़ाई के लिए यह कदम बहुत आवश्यक है। निश्चित रूप से लॉक डाउन की एक आर्थिक कीमत देश को निश्चित रूप से उठानी पड़ेगी लेकिन एक एक भारतीय को बचाना, देश को बचाना, आप को बचाने की सरकार की और हर स्थानीय निकाय की सबसे बड़ी प्राथमिकता है। इसलिए मेरी आप सब से हाथ जोड़कर प्रार्थना है कि आप इस समय देश में जहां भी हैं, वहीं रहे। वर्तमान हालातों के मद्देनजर यह लॉक डाउन 3 सप्ताह यानी 21 दिन का होगा। आने वाले 21 दिन हर परिवार हर व्यक्ति के लिए बहुत महत्वपूर्ण हैं। एक्सपर्ट की मानें तो कोरोना साइकिल को तोड़ने के लिए 21 दिन बहुत अहम है। यदि यह 21 दिन नहीं संभले तो यह देश 21 साल पीछे चला जाएगा।

अगर यह 21 सप्ताह नहीं संभले तो कई परिवार समाप्त हो जाएंगे। यह बात मैं प्रधानमंत्री के तौर पर नहीं, आपके परिवार के सदस्य के तौर पर कह रहा हूं इसलिए बाहर निकलना क्या होता है यह बात आप 21 दिन के लिए भूल जाइए। घर पर ही रहे, घरवालों के साथ रहें। आज के लाॅक डाउन ने आपके घर के बाहर एक लक्ष्मण रेखा खींच दी है। घर से बाहर आपका एक कदम कोरोना जैसी महामारी को घर के अंदर ला सकता है। कोरोना से संक्रमित व्यक्ति शुरुआत में बिल्कुल सामान्य लगता है। वह संक्रमित है इसका पता ही नहीं चलता। इसलिए एहतियात बरतिये, अपने घर में ही रहिए। जो लोग घर में हैं वह लोग सोशल मीडिया पर बहुत इनोवेटिव तरीके से लोगों को बता रहे हैं कि कोरोना मतलब कोई रोड पर ना निकले।

साथियों, एक्सपर्ट्स का यह भी कहना है कि आज अगर किसी व्यक्ति में कोरोनावायरस पहुंचा है तो उसके शरीर में इसके लक्षण दिखने में कई कई दिन लग जाते हैं। इस दौरान वह जाने अनजाने हर उस व्यक्ति को संक्रमित कर देता है जो उसके संपर्क में आता है। डब्ल्यूएचओ की रिपोर्ट बताती है कि इस महामारी से संक्रमित एक व्यक्ति हफ्ते 10 दिन में सैकड़ों लोगों तक इस बीमारी को पहुंचा सकता है यानी यह आग की तरह तेजी से फैलता है। डब्ल्यूएचओ का ही एक और आंकड़ा बहुत महत्वपूर्ण है। साथियों, दुनिया में कोरोना वायरस से संक्रमित व्यक्तियों की संख्या पहले एक लाख तक पहुंचने में 67 दिन लग गए थे लेकिन उसके बाद सिर्फ 11 दिन में दो लाख और अगले चार दिन में चार लाख हो गये।
इटली जैसे देशों में स्वास्थ्य सेवाएं पूरी दुनिया में बेहतरीन हैं। इसके बावजूद यह देश कोरोना का प्रभाव कम नहीं कर पाए। ऐसे में उम्मीद की करण उन देशों से मिलती है जो कोरोना जैसी महामारी के प्रभाव से बाहर निकल कर आए हैं। इसलिए इस महामारी को मात देने के लिए चाहे जो कुछ भी हो जाए हमें घर से बाहर नहीं निकलना है। सोशल डिस्टेंसिंग प्रधानमंत्री से लेकर गांव के हर छोटे-बड़े व्यक्ति तक है। यह समय संयम बरतने का है। धैर्य और अनुशासन की घड़ी है। याद रखिए.. जान है तो जहान है। हमें अपना संकल्प निभाना है, अपना वचन निभाना है । डॉक्टर नर्स पैरामेडिकल स्टाफ के बारे में सोचिए जो इस महामारी से जीवन को बचाने के लिए अस्पताल में काम कर रहे हैं। सफाई कर्मचारियों के बारे में सोचिए जो लगातार काम कर रहे हैं। आपको सही जानकारी देने वाले मीडिया कर्मियों के बारे में भी सोचिए जो संक्रमण का खतरा उठा कर सड़कों और अस्पतालों में हैं। उन पुलिसकर्मियों के बारे में भी सोचिए जो लोगों की गुस्ताखी और गुस्से का शिकार भी हो जाते हैं । देश में सभी आवश्यक वस्तुओं की कमी ना हो इसके लिए आवश्यक प्रबंध किए गए हैं। गरीबों के लिए यह समय मुसीबत भरा है। इसलिए केंद्र सरकार राज्य सरकार को के साथ पूरा प्रयास कर रही है। केंद्रर सरकार ने कोरोना से लड़ने के लिए पंद्रह हजार करोड़ का प्रावधान किया है।

Hits: 107

[supsystic-gallery id=6] [supsystic-gallery id=5]

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here