आरएसएस ने बनाया वर्ष प्रतिपदा उत्सव एवं डॉ. हेडगेवार का जन्म दिवस

0
40

मथुरा। राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ मथुरा महानगर द्वारा विक्रम संवत 20 77 के प्रथम दिन पर वर्ष प्रतिपदा उत्सव एवं संघ संस्थापक डॉ. केशव राव हेडगेवार का जन्म दिवस चैत्र शुक्ल प्रतिपदा बुधवार को मनाया गया।

राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के लिए वर्ष प्रतिपदा उत्सव का विशेष महत्व है क्योंकि यह भारतीय वर्ष का प्रथम दिन होता है तथा संयोग से संघ के संस्थापक पूज्य डॉक्टर का जन्मदिवस भी है । इसलिए संघ के स्वयंसेवक प्रतिवर्ष पूर्ण गणवेश में डॉक्टरजी के चित्र के सम्मुख उन्हें आद्य सरसंघचालक प्रणाम करते हुए यह उत्सव को मनाते हैं, लेकिन इस बार देश में कोरोना वैश्विक महामारी के कारण से जो स्थिति पैदा हुई है और सारे देश में लॉक डाउन किया गया है। इस बजह से उत्सव की महत्वता को देखते हुए संघ के स्वयंसेवकों ने इस उत्सव को पूर्ण गणवेश में अपने अपने घरों पर ही विधिवत रूप से मनाया ।

प्रातः काल 7:15 बजे स्वयंसेवकों ने अपने परिवार के साथी स्वयंसेवकों के साथ पूर्ण गणवेश में परम पवित्र भगवा ध्वज को यथा स्थान रोहित कर संघ संस्थापक डॉक्टर जी के चित्र पर माल्यार्पण करते हुए उन्हें आद्य सरसंघचालक प्रणाम किया तथा भारतीय नव वर्ष एवं डॉक्टर जी के जीवन चरित्र पर चर्चा की। कोरोना वैश्विक महामारी के कारण देश में उत्पन्न हुई परिस्थितियों के संदर्भ में विचार करते हुए शासन प्रशासन के निर्देशों का पूर्ण पालन कर समाज जागरूकता एवम सहयोग के विकल्पों पर भी चर्चा की। संघ प्रार्थना के पश्चात नव वर्ष की शुभकामनाएं का आदान प्रदान किया गया।

राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के मथुरा महानगर सह कार्यवाह विजय बंटा सर्राफ ने बताया कि प्रतिवर्ष धूमधाम से मनाया जाने वाला नव वर्ष प्रतिपदा उत्सव को इस वर्ष स्वयं सेवकों ने अपने अपने घरों पर कोरोना से बचाव के नियमों का पालन करते हुए सादगी पूर्ण तरीके से मनाया।

Hits: 30

[supsystic-gallery id=6] [supsystic-gallery id=5]

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here